RGPV diploma linux unit 5

LINUX UNIT 5

Q1. System administrator को समझाइये 
OR
System administrator के role पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिये।
OR  
एक कार्यरत Linux system के रखरखाव मे सम्मलित सामान्य प्रबंधन कार्य क्या क्या है?
OR
Linux system के रखरखाव के लिए सामान्य प्रबन्धन कार्य कोन कोन से है?
OR
System administrator क्या है? इस्के उत्तर्दायित्वो को लिखिये।
OR
System administrator के विभिन्न roles को समझाइये 
OR
System administrator कोन से सामान्य administrative कार्य करता है?
OR
System administrator के विभिन्न roles क्या है?
OR
System administrator कि भुमिका को समझाइये ?
OR
System administrator से आप क्या समझते है? System administrator के विभिन्न roles लिखिये।


Ans. सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर या फिर सिस्टम एडमिन एक व्यक्ति होता है | यह एक ऐसा व्यक्ति होता है जो की कंप्यूटर सिस्टम को मेन्टेन करता है तथा उसकी सम्पूर्ण प्रणाली को मेन्टेन करता है | यह नेटवर्क को भी मैनेज कर सकता है | सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर सुचना प्रौद्योगिकी विभाग का सदस्य भी हो सकता है |


सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर के विभिन्न रोल
  1. डेटाबेस एडमिनिस्ट्रेटर यह डेटाबेस सिस्टम को मेन्टेन करता है तथा ये डाटा को आपस में जोड़ने के लिए जिम्मेदार होता है |यह सिस्टम के प्रभावशाली उपयोग के लिए भी जिम्मेदार होता है |
  2. नेटवर्क एडमिनिस्ट्रेटर यह नेटवर्क के इंफ्रास्ट्रक्चर जैसे स्वित्चिंग, रूटर्स आदि को मेन्टेन करता है तथा कंप्यूटर से जुडी हुई समस्याओ को हल करता है |
  3. सिक्यूरिटी एडमिनिस्ट्रेटर यह कंप्यूटर तथा नेटवर्क सिक्यूरिटी के लिए उपयुक्त होता है | यह सिक्यूरिटी देविसस जैसे की फ़ायरवॉल आदि को आसानी से कण्ट्रोल कर सकता है |
  4. टेक्निकल सपोर्ट यह कंप्यूटर सिस्टम के साथ आने वाली समस्याओ को हल करता है | यह समस्त यूजर के लिए निर्देश ट्रेनिंग तथा कुछ समस्याओ का हल भी प्रदान करता है |
  5. कंप्यूटर ऑपरेटर एक कंप्यूटर ऑपरेटर रूटीन कार्यो, जैसे- बैकअप टेप्स या खराब उपकरणों को चेंज करता है |
सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर के कार्य/ भूमिका
  1. सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर, सिस्टम को स्टार्टअप तथा शटडाउन करता है |
  2. सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर फाइल सिस्टम को मैनेज करता है |
  3. सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर यूजर के लिए लॉग इन नेम तथा पासवर्ड सेट करता है |
  4. सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर लिनक्स सिस्टम को रन करने तथा डिलीट कर सकता है |
  5. सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर किसी भी यूजर की फाइल को एक्सेस कर सकता है |
  6. सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर यूजर के नए अकाउंट को क्रिएट तथा रेमूव कर सकता है |
  7. सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर सिस्टम की डेट को सेट कर सकता है |

Q2. Configuration file एवम्‌ log file मे अंतर समझाइये ?

Ans.
कॉन्फ़िगरेशन फाइल 
लॉग फाइल
1.
लिनक्स सिस्टम में विभिन्न टास्क को मैनेज करती है |
सिस्टम सिक्यूरिटी के लिए बहुत उपयोगी है |
2.
/etc डायरेक्टरी में स्टोर रहती है |
/var डायरेक्टरी में स्टोर रहती है |
3.
/etc/named.conf कॉन्फ़िगरेशन फाइल है |
/var/named.log लॉग फाइल है |
4.
इसका एक्सटेंशन .conf है |
इसका एक्सटेंशन .log है |



Q3. File permission क्या है? उदाहरन सहित सम्झाइये।
OR
विभिन्न प्रकार कि file permission क्या है? उदाहरण सहित समझाइये ।
OR
File permission क्या है? विभिन्न file permission को लिखिये।

Ans. लिनक्स में बहुत सारे सिक्यूरिटी फीचर्स होते है,उन्ही में से एक बहुत ही इम्पोर्टेन्ट फीचर्स होता है फाइल परमिशन |
फाइल परमिशन फाइल के उपर वेलिडेशन लगाने का काम करता है |
परमिशन ग्रुप्स :-
लिनक्स में फाइल और डायरेक्टरी तिन तरह के यूजर बेस्ड परमिशन ग्रुप रखती है 
  1. Owner : owner परमिशन सिर्फ फाइल owner पे ही वेलिडेशन लगाती है, दुसरे यूजर पे इसका असर नही होता है |
  2. Group : group परमिशन सिर्फ उसी group पे होती है जिसमे की फाइल है, दुसरे group पे इसका असर नही होता |
  3. All users : इस तरह की परमिशन सारे users पे फॉलो होती है |

परमिशन ग्रुप्स जो उपयोग होते है :
  1. u – owner
  2. g – Group
  3. o या a – All Users
परमिशन टाइप्स:-
  1. read : read परमिशन यूजर को सिर्फ फाइल को read करने की परमिशन देता है|
  2. write : write पेमिस्सिओं यूजर को फाइल को write करने की परमिशन देता है |
  3. execute : execute परमिशन यूजर को फाइल को execute करने की परमिशन देता है|
परमिशन टाइप्स जो उपयोग होती है :
  1. r – Read
  2. w – Write
  3. x – Execute




Q4. Ownership चेंज करने कि विधि लिखिये?

Ans. Chown- ownership चेंज करने के लिए इस कमांड का उपयोग होता है |

example :

फाइल का owner बदलने के लिए-

$  chown  jayesh     linux.txt

group का owner बदलने के लिए-

$  chown   :jayeshgroup     linux.txt


Q5. Chmod command को समझाइये ?

Ans. Chmod- इस कमांड का उपयोग फाइल और डायरेक्टरी की परमिशन बदलने के लिए किया जाता है |

यूजर अपनी फाइल में इतनी परमिशन दे सकता है
  • यूजर read, write, और execute करने की परमिशन दे सकता है |
  • यूजर group members को read, write, और execute करने की परमिशन दे सकता है |
  • यूजर दूसरो को सिर्फ read करने की परमिशन दे सकता है|
कमांड :

Chmod   u = rwx,    g = rx,    o=r   myfile
Q6. Kernel security तथा password security से आप क्या समझते है ?
OR
Kernel security पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिये?
OR

Kerenel security को विस्तार से समझाइये ?

Ans.
कर्नल सिक्यूरिटी – कर्नल, लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम का महतवपूर्ण भाग है जिसे लिनक्स का हृदय भी खा जाता है | कर्नल को असेंबली लैंग्वेज में बनाया जाता है |कर्नल सिक्यूरिटी, कर्नल कॉन्फ़िगरेशन का एक पार्ट होता है, जो की सिक्यूरिटी से सम्बंधित होता है | जिस तरह कर्नल कंप्यूटर नेटवर्किंग को कण्ट्रोल करता है, इसके लिए इसे बहुत ही सिक्योर होना चाहिए| कुछ लेटेस्ट नेटवर्किंग अटैक को रोकने के लिए करंट कर्नेल वर्जन की आवश्यकता होती है |

पासवर्ड सिक्यूरिटी – पासवर्ड आजकल उपयोग होने वाली सुरक्षा प्रणाली है | यह अलग-अलग यूजर के द्वारा यूजरनाम तथा पासवर्ड की सहायता से व्यस्थित की जाती है, इसलिए यूजर के डाटा को बिना पासवर्ड और यूजरनाम के एक्सेस नही कर सकते है | इस प्रकार पासवर्ड सिक्यूरिटी से डाटा को सुरक्षित कर सकते है |


Related topics

Professor Jayesh video tutorial

Please use contact page in this website if you find anything incorrect or you want to share more information about the topic discussed above.